Sorry, your browser does not support JavaScript! Please use javascript enabled browser.

बड़ी ख़बरें

  • गलगोटिया यूनिवर्सिटी में दवा निर्माण पर हुई राष्ट्रीय सेमीनार
  • यूनिवर्सिटी को फार्मा से जुड़े पांच पाठ्यक्रमों की मान्यता मिली
  • उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी शारदा यूनिवर्सिटी पहुंचे
  • हामिद अंसारी ने एजूकेशन सिस्टम पर छात्रों के सवालों के दिए जवाब

NEET: अगले साल से उर्दू में भी होगी प्रवेश परीक्षा

The University Correspondent 2017/04/16 14:49

NEW DELHI: NEET की परीक्षा उर्दू में भी होगी। यह मांग करने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए केंद्र और CBSE को आदेश दिया है कि अगले साल 2018-19 से उर्दू में भी प्रवेश परीक्षा करवाई जाए। हालांकि इस बार होने वाली परीक्षा में उर्दू शामिल नहीं होगी। सुनवाई के दौरान अदालत ने कहा कि सात मई को होने वाली परीक्षा में उर्दू को शामिल नहीं किया जा सकता। अब 11 हजार छात्रों के लिए पेपर में अतिरिक्त बदलाव नहीं किया जा सकता।
केंद्र सरकार ने सुनवाई के दौरान कहा था कि उन्हें उर्दू को भी शामिल करने में गुरेज नहीं है लेकिन इस साल परीक्षा में इस भाषा को शामिल करना संभव नहीं है। आगे के लिए इस पर विचार किया जाएगा। नीट की परीक्षा उर्दू माध्यम में भी क्यों न हो, इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट में इस्लामिक स्टूडेंट ऑर्गनाइजेशन ने याचिका दायर की थी। जिस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने केंद्र सरकार, और सीबीएसई को नोटिस जारी करके जवाब मांगा था।
अभी तक नीट की परीक्षा हिंदी, इंग्लिश, गुजराती, मराठी, उड़िया, बंगला, असमी, तेलगु, तमिल और कन्नड़ भाषाओं में होती है। सरकार ने कोर्ट में कहा था कि किसी भी राज्य सरकार ने नीट की परीक्षा उर्दू में करवाने की गुजारिश नहीं की है। लेकिन अब महाराष्ट्र और तेलंगाना सरकार इसकी मांग कर रहे हैं। इसके अलावा कुछ और भी राज्य हैं जो इस पर विचार कर रहे हैं। याचिकाकर्ता ने कोर्ट में ये भी कहा कि सीबीएसई ने उससे कहा था कि अगर कोई राज्य सरकार इसकी मांग करे तो विचार करेंगे।




संबंधित खबरें