Sorry, your browser does not support JavaScript! Please use javascript enabled browser.

बड़ी ख़बरें

  • गलगोटिया यूनिवर्सिटी में दवा निर्माण पर हुई राष्ट्रीय सेमीनार
  • यूनिवर्सिटी को फार्मा से जुड़े पांच पाठ्यक्रमों की मान्यता मिली
  • उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी शारदा यूनिवर्सिटी पहुंचे
  • हामिद अंसारी ने एजूकेशन सिस्टम पर छात्रों के सवालों के दिए जवाब

जेएनयू छात्र नेता शेहला राशिद पर पैंगर मुहम्मद के अपमान का आरोप, अलीगढ़ में एफआईआर

The University Network 2017/02/21 21:35

ALIGARGH: अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र संघ (एएमयूएसयू) ने जवाहर लाल नेहरु यूनिवर्सिटी (जेएनयू) छात्र संघ की नेता शेहला राशिद के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है। आरोप है कि शेहला ने एक फेसबुक पोस्ट के जरिए कथित तौर पर पैगंबर मुहम्मद साहब का अपमान किया है।

अलीगढ़ शहर के सिविल लाइन्स थाने में एफआईआर दर्ज कराने वाली एएमयू छात्र संघ की सदस्य गजाला अहमद ने दावा किया है कि जेएनयू छात्रा ने इसी साल 9 जनवरी को पैगंबर मुहम्मद और अन्य धर्मों के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थीं। दिलचस्प बात ये है कि शेहला के खिलाफ एफआईआर तब दर्ज कराई गई जब उन्हें खुद एएमयू छात्र संघ ने शनिवार को ऑल इंडिया स्टूडेंट्स लीडर मीट के लिए आमंत्रित किया था।

जेएनयू से आमंत्रित किए गए अन्य छात्रों में जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार, पूर्व अध्यक्ष अकबर चैधरी, इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ के आदिल हमजा, दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्र नेता कवलप्रीत कौर और जेएनयू स्टूडेंट उमर खालिद भी शामिल हैं। खुद के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने के बाद शेहला ने एक फेसबुक पोस्ट में सभी आरोपों को खारिज किया है। कहा है कि अलीगढ़ जाने की योजना रद्द कर दी है।

शेहला ने लिखा है कि मैंने खुशी से इस आमंत्रण को स्वीकार किया और मैंने एएमयूएसयू के महासचिव को बताया था कि मैं नजीब के गायब होने के मुद्दे पर बोलूंगी। लेकिन एएमयू में फिलहाल पैदा हुई स्थितियों को ध्यान में रखते हुए मेरे वहां जाने बेवजह तमाशा खड़ा हो जाएगा। नजीब अहमद के गायब होने का मुद्दा भी खत्म हो जाएगा। ऐसे में मैंने वहां जाने की योजना रद्द कर दी है। शेहला ने कहा कि एएमयू छात्र संघ ने उनके फेसबुक पोस्ट को पैगंबर मुहम्मद के विषय में गलत समझा।




संबंधित खबरें