Sorry, your browser does not support JavaScript! Please use javascript enabled browser.

बड़ी ख़बरें

  • गलगोटिया यूनिवर्सिटी में दवा निर्माण पर हुई राष्ट्रीय सेमीनार
  • यूनिवर्सिटी को फार्मा से जुड़े पांच पाठ्यक्रमों की मान्यता मिली
  • उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी शारदा यूनिवर्सिटी पहुंचे
  • हामिद अंसारी ने एजूकेशन सिस्टम पर छात्रों के सवालों के दिए जवाब

करंट अपडेट

कैंपस हलचल

जाॅब्स

वीडियो

आमने-सामने

0 results
0 results

इंजीनियरिंग

फ्रेशर्स को कम वेतन देने के लिए गुटबंदी कर रहीं हैं आईटी कंपनियांः पई

आईटी उद्योग से नए छात्रों के लिए अच्छर खबर नहीं है। इस सेक्टर के पुराने दिग्गज और इन्फोसिस टेक्नोलॉजी के पूर्व मुख्य वित्त अधिकारी टीवी मोहनदास पई का आरोप है कि देश की बड़ी आईटी कंपनियों ने नई भर्ती के लिए ‘गिरोहबाजी’ कर ली है। ये लोग कर्मचारियों का वेतन कम रखने के लिए परस्पर सहमति बना रहे हैं। दरअसल, कंपनियां शुरूआती स्तर के साॅफ्टवेयर इंजीनियरों की बहुतायत में उपलब्धता का गलत फायदा उठा रही हैं। पई ने पीटीआई से कहा, यह भारतीय आईटी उद्योग के साथ दिक्कत है। भारतीय आईटी उद्योग अपने नए कर्मचारियों को ढंग का वेतन नहीं दे रहा है।

मेडिकल/मैनेजमेंट

कमीशन/काउंसिल